मैं शुरूआत से ही आध्यात्मिकता का चेहरा रहा हूॅ

मैं शुरूआत से ही आध्यात्मिकता का चेहरा रहा हूॅ। भगवान की कृपा से मैं प्रसिद्ध गायक, गीतकार व फिलम निर्माता के साथ-साथ अभिनेता भी हूॅ। पर पूज्य साॅईजी के दर्षन से  मुझे विलक्षण आनंद की अनुभूति हुई है। उनका थोडा सात्रिध्य पाकर मुझे उनके महान व्यक्तित्व थोडी झलक मिली है। वे प्रगाढ विद्वान हैं, समर्थ संत व सदगुरू हैं। उनके आगमन से व मेरे रिझोर्ट में निवास करने से यह तीर्थ भूमि बन  गया है। उनके आषीर्वाद से लदाख में जरूर अमन-चमन व खुषहाली छायेगी। वे बार-बार यहाॅ आते रहें व हमें कृतार्थ करते रहें यही श्रीचरणों में प्रार्थना है।
                                                                                                  - फुन्सुक लदाखी, सिंधु दर्शन रिझोर्ट,
                                                                                                          एग्लिंग रोड़, लेह-194101

Share on :